HomeSerious Diseases

Corona Virus कोरोना वायरस क्या है? Symptom & Precautions for Safety

Corona Virus कोरोना वायरस क्या है? Symptom & Precautions for Safety
Like Tweet Pin it Share Share Email

कोरोना वायरस ( coronavirus)

हाल ही में देखा गया कम्युनिकेबल डिजीज कोरोनावायरस के खतरे बढे हैंI इसलिए इस रोग से रोकथाम से जुड़े ज्ञान और उनसे बचने का उपाय(समाधान) के बारे में जानना  काफी जरुरी हैI रोकथाम और स्वास्थ सेवाओं से जुड़े उचित कदम उठाकर इन खतरनाक बीमारियों पर रोक लगाकर तुरंत नतीजे प्राप्त कर सकते हैंI उच्च आय वाले देश चीन जो हर तरीके के और दवाइयों के उपलब्धता से भरपूर है वहां कोरोना वायरस के कारण अधिकांश लोगों की मौत हो गयी हैIकोरोनावायरस के लक्षण धीरे-धीरे पुरे विश्व विशेषकर एशियाई देशों में देखने को मिल रही हैI 

  • कोरोना वायरस क्या है? 

कोरोना  वायरस यह एक पूर्ण रूप से वायरस नहीं है बल्कि  कई वायरसों का समूह है परन्तु यह किस प्रकार का वायरस है?और यह कौन सा जानवर से  संक्रमित होकर फैलता है यह स्पष्ट नहीं हो पाया हैI अभी इसके बारे में किसी भी तरह का वैक्सीनेशन,एंटीबायोटिक्स  दवा आदि का पूर्ण रूप से खोज नहीं हुआ हैI परंतु डॉक्टरों का कहना है कि यह वायरस का एक प्रकार है जो SARS VIRUS और MERS VIRUS  के परिवार(प्रकार) जैसा ही हैI डॉक्टरों का कहना है कि विशेषकर स्तनधारियों ,पशु -पक्षियों के कारण फ़ैल रहा है कुछ लोग इसे चमगादड़ और सांप को इस वायरस का कारक मानते हैंI कोरोनावायरस से अनेक प्रकार की बीमारियां उत्पन्न हो सकता है विशेषकर श्वास संबंधी गंभीर समस्या,जुकाम,खांसी-सर्दी आदि  जैसे सिंड्रोम आते हैंI सिंड्रोम चीन में फैले कोरोनावायरस शुरुआत एक ऐसे ही शहर से हुआ थाI जहां अनेक प्रकार के जानवरों का मांस बाजार बड़ी तादात मात्रा में लगता हैIसबसे बड़ी चिंताजनक बात यह है कि कोरोना वायरस के लक्षण रोगी में दिखाई देने से पहले ही पूरी तरह से उसके शरीर में फैल जाता हैI

  • कोरोना वायरस कैसे फैलता है? 

कोरोना वायरस में यह बात  अस्पष्ट है की यह मानव से मानव शरीर में  फैल रहा है या केवल जानवरों से मनुष्यों में, परंतु तमाम डॉक्टरों का यही कहना है की  संभवत: ड्रॉपलेट के द्वारा फ़ैल सकता है माना जा रहा है की यह सांप की प्रजाति से चमगादड़ में और चमगादड़ से मनुष्यों में फ़ैल रहा हैI संक्रमित रोगियों के किसी भी तरह छूने या संपर्क में आने से भी फ़ैल सकता हैI अगर कोई व्यक्ति खांसते समय अपना हाथ मुंह पर रखता है और उसी हाथ से दूसरे को छूता है तो भी कोरोना वायरस फैल सकता हैI  इसके अलावा पहले व्यक्ति दूसरे व्यक्ति द्वारा उसके किसी भी प्रकार के कपड़े को पहनता या स्नान आदि के लिए कपडे इस्तेमाल में लाता है तो भी कोरोना वायरस फ़ैल सकता हैI इसमें आर एन ए वायरस पाया गया है जो गाय,सुअर, सांप ,चमगादड़ ,मुर्गियों में यह ऊपरी श्वसन तंत्र के रोग के कारण बनते हैं इसलिए इन जानवरों से भी कोरोना वायरस फैलता हैI

  • कोरोनावायरस के लक्षण(Symptoms)-

कोई व्यक्ति कोरोना वायरस से पीड़ित होता है तो उसमें निरंतर सर्दी,खांसी  और जुकाम साथ -साथ सिर में दर्द और चक्कर आता हैI जिसका प्रारंभिक लक्षण समान होता है और बाद में बढ़ते जाता है इसके अलावा बेहोशी और बुखार भी आता हैIइसके अलावा जब व्यक्ति में कोरोनावायरस  पूरी तरह से फैल जाता है तो फेफड़े में निमोनिया से ग्रसित हो जाता है रोगी को सांस लेने में दिक्कत होती है, सांस लेते समय दर्द होता हैIजब एक बार निमोनिया हो जाता है तो व्यक्ति कडनी,फेफड़े सहित  का अनेक अंग कार्य करना बंद कर देता है अंतत: व्यक्ति की मृत्यु हो जाती हैI

  • कोरोनावायरस से बचने का उपाय-

वर्तमान में कोरोनावायरस के सटीक इलाज अज्ञात होने के कारणI हमारे रोजाना की  दिनचर्या से जुड़े जीवन शैली में बदलाव कर स्वयं को बचाव करना ही एकमात्र इलाज हैI

  • ऐसे कोई भी व्यक्ति के संपर्क में ना जाए जो किसी भी तरह की परेशानी हो  खांसी,सर्दी, बुखार,जुकाम से पीड़ित होI 
  • हमेशा मास्क पहन कर  विशेषकर दूसरों से बातचीत करते समय और बाहर जाते समय मास्क जरूर  पहनेI 
  •  हमेशा हाथों को अच्छी तरह से साबुन अथवा सैनिटाइजर से धोएंI 
  •  खुले में बिक  रहे किसी प्रकार का मीट अर्थात मांस का सेवन ना करें I
  • जंगली जानवरों  से दूरी बनाये रखेंI 
  • कोरोनोवायरस में होने वाली प्रमुख जांच- 

कोरोनावायरस से संबंधित इफेक्शन के लिए किसी भी प्रकार के विशिष्ट जांच अभी तक उपलब्ध नहीं हैI  इसमें न्यूक्लिक एसिड टेस्टिंग(PCR) की जाती है जिसके माध्यम से वायरस के डीएनए को पता लगाया जाता हैI  जिससे रोगी में कोरोनावायरस की पुष्टि होती हैI इसके अलावा इसके अलावा इलेक्ट्रॉन माइक्रोस्कोपी टेस्टिंग किया जाता हैI