HomeSerious Diseases

Haiza हैजा Cholera के Symptom-लक्षण-cause-treatment-उपचार

Like Tweet Pin it Share Share Email

 

  • हैजा (Cholera)

हैजा एक ऐसा बीमारी है जो हमारे अनियमित दिनचर्या गलत खान-पान और शरीर की सही  देखभाल न करने से अधिक फैलता हैI प्राय: किसी भी रोग का जिम्मेदार हम खुद हैं आधुनिक जीवनशैली में हम शरीर क देखभाल करना भूल गए हैं,अशुद्ध खान -पान व्यस्त दिनचर्या के कारण कई प्रकार के रोग  धीरे -धीरे दस्तक देता है और हमें भनक भी नहीं लगती,किसी भी गंभीर बीमारी को सही खान -पान और सही देखभाल से काफी हद तक नियंत्रित किया जा सकता हैI हैजा को एशियाई महामारी के रूप में भी जाना जाता हैI करीब दो दशक पहले भारत में इसका प्रकोप बहुत अधिक था हर उम्र के लोग इस बीमारी के चपेट में आकर काल के गाल  में समा जाते थेI विश्व भर में लाखों मौत अभी भी हैजा का कारण होता हैI 

  • हैजा क्या है?(what is cholera?)

 हैजा गर्मी और मानसून के समय अधिक  फैलता हैI हैजा जीवाणुओं से फैलने वाली बीमारी है,जिसे घरेलु भाषा में विसूचिका भी कहा जाता हैI यह बैक्टीरिया से होने वाला एक रोग है जो मुख्य रूप से पानी से फैलता है, जिसमें रोगी के शरीर में गंभीर दस्त और शरीर में  पानी की कमी हो जाती हैI जिससे डीहाइड्रेशन हो सकता है अगर समय पर इलाज ना हो तो व्यक्ति की मृत्यु भी हो सकती हैI हैजा विब्रियो कोलेरा  नामक जीवाणु के कारण फैलता है यह जीवाणु मुख्य रूप से गंदे और अशुद्ध  भोजन और जल में पाए जाते हैंI यह मुख्य रूप से आंत को प्रभावित करता हैI हैजा गंदे वातावरण ,बाहर खुले में शौच जाने के कारण गंदे पानी , बासी भोजन के कारण अधिक फैलता हैI   हैजा का अगर समय पर इलाज ना हो तो यह महामारी का रूप धर लेता है परंतु हैजा एक व्यक्ति के संक्रमित होने से अन्य में नहीं फ़ैलता हैI हैजा संक्रमित आहार या पाने के कारण उसके बैक्टीरिया हमारे शरीर में आ जाते हैं और तेजी से अपना प्रभाव हमारे शरीर पर दिखाई देता है यह सीधा हमारे अंत को प्रभावित करता है और लगातार बैक्टेरियों की संख्या हैजा में  शरीर के अंदर बढ़ता रहता हैIहालांकि वर्तमान में हालात काफी सुधर गए हैं लोग शिक्षित होने के कारण स्वच्छता पर अधिक ध्यान देते हैं इसलिए यह एक सामान्य बीमारी की श्रेणी में शामिल हो गया है अब हैजा का रोगी पहले की तुलना में कम पाए जाते हैंI 

  •   हैजा होने का मुख्य कारण

जैसा कि आपको पता है कि हैजा वाइब्रियो कोलेरा नामक  मैं कारण फैलती है और यह बैक्टेरिया विभिन्न माध्यम से उत्पन्न होता हैI

  • खुले में शौच करने से ,अक्सर लोग गांव और कस्बों में  खेत -खलियान, नदी, तालाब के किनारे शौच करने से अत्याधिक संख्या  में यह बैक्टेरिया बाहर आता है और मक्खियों माध्यम से हमारे घरों में  भोजन, पानी तक फैलता हैI
  • बाजार का भोजन करने से ,सड़क के किनारे बिकने वाले खुले में ठेले आदि पर बिकनी वाली खाद्य सामग्री में हमेशा धूल,धुंआ और  मक्खी आकर बैठते हैं जिससे मक्खियों यों के ममाधयम से वह बैक्टेरिया हमारे आंत में प्रवेश कर जाता हैI
  • कच्चे और देर का भोजन जोदूषित हो जाता है उसे खाने से भी  हैजा हो सकता हैI
  •  मानव अशिष्ट द्वारा पानी सेउगाए गए सब्जियों का सेवन करने सेI
  • हैजा के प्रमुख लक्षण (SYMPTOMS)-

हैजा के लक्षण कुछ घंटों के बाद  या तो कुछ दिनों के बाद भी शुरू हो सकते हैं शुरुआती लक्षण थोड़े हल्के होते हैं लेकिन अगर सबसे बड़ी कठिनाई है कि प्राय: लोग शुरुआत में इसके लक्षणों को पहचान नहीं पाते जिससे हैजा कभी गंभीर बीमारी का रूप लेता है और जानलेवा  भी बन सकता हैI

  • शुरआत में रोगी को समय -समय पर निरंतर  कई बार उल्टी और बार -बार पानी जैसे दस्त होती हैI
  • कभी -कभी  पेट दर्द हो सकता हैI
  • सिर में चक्कर और दर्द के साथ अधिक कमजोरी महसूस होनाI
  • पानी की कमी की वजह से  डिहाईड्रेशन होनाI
  • शरीर के कुछ अंगों में,नाखूनों  नीलापन दिखाई देनाI
  •  प्यास अधिक लगना ,पल्स का धीमा हो जाना 
  • कभी कभी रोग बेहोशी के हालत में चला जाता हैI
  • मांसपेशियों में खिंचाव और ऐंठन महसूस होनाI
  • शरीर का ठंडा पड़ जानाI
  • कभी -कभी शरीर के आंतरिक अंग काम करना बंद कर देता हैI
  • हैजा से बचने का घरेलू उपाय – 

हैजा में इलाज के साथ बचाव की जरूरत ज्यादा होती है अगर हम अपने शरीर पर थोड़ा देखभाल करना शुरू कर दें अच्छी और बुरे का फर्क कि समझ हो तो इस रोग से संक्रमित होने से आशंका कम होती है,क्योंकि गंदे पानी का सेवन और दूषित खाद्य पदार्थो का सेवन है इस रोग की सबसे बड़ी वजह है तो  इसलिए खुद को नीचे लिखी गयी बातों को अपने दैनिक जीवन में जरूर याद रखेंI

    • हमेशा खाने -पीने में सावधानी बरतें ताज़ी और गर्म पानी पियेंI
  • हमेशा पानी को उबालकर पियें  पानी को गर्म करने से उसमें (पानी)से युक्त कीटाणु  नष्ट हो जाते हैंI
  • खुले में शौच नहीं करनी चाहिएI
  • भोजन करने से पहले और उसके बाद में हमेशा हाथ अच्छे तरीके से धो लेंI
  • हमेशा ताजी और हरी सब्जियां का ही आहार लें सब्जियों को बनाने से पहले अच्छे तरीके से और गर्म पानी से धोएंI
  • बाहर का विशेषकरके बिकनी वाली खुले में बिकने वाली खाद्य पदार्थों को ना खाएंI
  •  मक्खियों को भोजन पर क्या अपने बिस्तर पर न बैठने देंI
  •  हमेशा रसोई घर को साफ सुथरा और भोजन कर रखेंI
  • पूरी तरीके से पकाई गयी भोजन करेंI
  • भोजन को साफ़ सुथरा करके बनायें हमेशा बर्तनों को पूरी तरीके से साफ़ कर लेंIरात को हमेशा ब्रश करें और बच्चों को नाख़ून मुंह में ना लेने देंI
  • हैजा का उपचार की प्रक्रिया(Treatment)-

हैजा का शुरुआती लक्षण धीरे-धीरे विकसित होता है और गंभीर बीमारी का रूप ले लेता हैI हैजा में निरंतर B.P की जांच ,पल्स की जाँच निरंतर किया जाता हैI चूँकि हैजा एक संक्रामक रोग है , इसके लिए टीका भी उपलब्ध हैI  जब व्यक्ति डिहाईड्रेशन का शिकार हो जाता है तो कभी-कभी कभी जानलेवा बन जाता है इसलिए रीहाड्रेशन किया जाता हैI जब रोगी गंभीर रूप से डिहाईड्रेशन का शिकार हो जाता है उसे अस्पताल में भर्ती में डॉक्टर नसों के  माध्यम से तरल पदार्थ शरीर में पहुंचाते हैंIकुछ मामलों में एंटीबायोटिक्स भी जरुरत पड़ने पर दी जाती हैI

  • नोट -इस लेख में उपरोक्त लिखी गई बातें अर्थात चिक्तिसकीय आलेख लोगों की  स्वास्थ्य के प्रति जागरूकता बढ़ाने बीमारी के बारे में अवगत कराने के लिए हैI  जो इलाज की पुष्टि नहीं करता हैI इसलिए स्वयं इलाज न करें उपरोक्त लिखी गए लक्षण होने पर  चिकित्सक से संपर्क करें और नियमित रूप से इलाज करवाएंI